महीनो का इंतज़ार अब हुआ ख़तम , हिन्दुस्तान ने मनाया टीकोत्सव:

0
290

प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने 16 जनवरी की सुबह पूरे देश को किया सम्भोदित और भारत के वैज्ञानिकों द्वारा तैयार की गयी वैक्सीन की जानकारी साँझा की।
मोदी जी ने पूरे देश को टीकाकरण अभियान की शुरुआत पर बधाई दी ,साथ ही सभी वैज्ञानिकों का आभार प्रकट करते हुए कहा- दिन रात , सुबह शाम , अपने परिवार से दूर , सभी त्योहारों को छोड़ के आपने आप को कोरोना जैसी महामारी के टीके को बनाने में झोंक दिया और दस महीने के अंदर vaccine खोज निकाली।
बातों ही बातों में मोदी जी ने विपक्ष के द्वारा फैलाये जा रहे भ्रम से दूर रहने की भी सलहा देश को दी ।

मेड इन इंडिया अभियान:

प्रधान मंत्री मोदी जी ने भारत के टीके के निर्माण को मेड इन इंडिया अभियान से जोड़ते हुए कहा की ये वैक्सीन मेड इन इंडिया अभियान को मजबूती देगी और साथ ही आत्मनिर्भर भारत अभियान को बढ़ावा देने में सबसे ज़्यादा कारगर रहेगी।

दुनिया के सबसे बड़े टीकाकरण की शुरुआत :

भारत के अलग अलग शहरों में टीकाकरण की शुरूआत ज़ोरो-शोरो से हो चुकी है,जिसमे सांसदो ने, एम्स के बड़े डॉक्टरों ने टीका लगवाया हैं।

स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्री डॉ हर्ष वर्धन की मौजूदगी में दिल्ली मे लगवाए गए टीके।
अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्था , नयी दिल्ली के निदेशक रणदीप गुलेरिया ने लोगो के मन से वैक्सीन के प्रति फैलाये गए भ्रम को दूर करने लिए टीका लगवाया।

चरणो में टीके:

टीकाकरण अभियान के पहले चरण में टीका सुरक्षा कर्मी जैसे- थल सेना, नौ सेना और वायु सेना के जवान , पुलिस कर्मी , अग्निशामक दल के कर्मी आदि को लगाया जायेगा , जिनकी संख्या 3 करोड़ है और दूसरे चरण में टीका वृद्ध लोगों, गम्भीर अवस्था के मरीजों को लगाया जाएगा ,जिनकी संख्या 30 करोड़ हैं।टीकोत्सव में भारत बायोटेक की कोवाक्सिन और सीरम इंस्टिट्यूट की कविशिल्ड मौजूद हैं।

Leave a Reply