इतिहास में पहली बार हुआ प्रधानमंत्री के नेतृत्व में यह बढा काम रेवा को मिली statue of unity के लिए सीधी ट्रैन

0
259

गुजरात के केवडिया में स्थित सरदार वल्लबभाई पटेल की सबसे ऊँची प्रतिमा जिसे स्टेचू ऑफ़ यूनिटी कहा जाता है, जिसे देखने के लिए देश विदेश से लोग आते हैं, उसकी आवाजाही को मोदी जी ने किया आसान और पहली बार एक साथ 8 ट्रेनों को हरी झंडी दिखायी जो देश के अलग अलग कोनो से चलेगी और गुजरात के केवडिया से जुड़ेगी।

प्रधानमंत्रीने की ऑनलाइन कांफ्रेंस:

प्रधानमंत्री मोदी ने 17 जनवरी की सुबह ऑनलाइन कांफ्रेंस के ज़रिये आठो रेलगाड़ियों का शुभारम्भ किया।आपनी कॉन्फ्रेंस के दौरान पीएम मोदी ने कहा कि ऐसा पहली बार हो रहा है जब देश के इतने अलग अलग कोनो से एक ही जगह के लिए इतनी रेलगाड़ियां चलायी जा रही हों।

पीएम मोदी ने सुखद संयोग के बारे में भी आपनी कांफ्रेंस में बात की और बताया की आज तमिलनाडु के पूर्व सीएम एमजी रामचन्द्र जी की जयंती है , प्रधानमंत्री मोदी ने भारत रत्न रामचन्द्र जी को याद कर श्रद्धांजलि दी। मोदी जी ने अपनी स्पीच में ये भी बताया की आज जो ट्रैन केवडिया के लिए निकल रही हैं उनमें से एक ट्रैन पुररेचि तलाइवर डॉ एमजी रामचन्द्र सेंट्रल रेलवे स्टेशन से भी होकर गुजरेगी।

स्टेचू ऑफ़ यूनिटी से हुआ गुजरात को फायदा :

स्टेचू ऑफ यूनिटी के निर्माण के बाद गुजरात के पर्यटन पर अच्छे रूप में प्रभाव पड़ा है ,लोगो की आवाजाही से सरकार को फायदा मिला है स्टेचू पफ यूनिटी के निर्माण के बाद करीब 50 लाख से ऊपर लोग स्टेचू ऑफ़ यूनिटी को देख के आ चुके हैं।

रेलगाड़ियों के स्पेशल स्टेशन है :

मोदीजी द्वारा दिखायी गयी हर झण्डी जिन ट्रेनों को मिली है वह ट्रैन गुजरात के केवडिया को भारत के अलग अलग शहर जिसमे-चेन्नई , अहमदाबाद,हज़रात निजाम्मुद्दीन रीवा , वाराणसी , दादर प्रतापनगर मौजूद हैं से निकलेगी।

Leave a Reply